Usha Priyamvada/उषा प्रियंवदा
लोगों की राय

लेखक:

उषा प्रियंवदा
जन्म : 24 दिसम्बर 1930, कानपुर।

शिक्षा : इलाहाबाद विश्विद्यालय से अंग्रेज़ी साहित्य में एम.ए., वहीं से पी-एच.डी.।

दिल्ली के लेडी श्रीराम कॉलेज और इलाहाबाद विश्वविद्यालय में प्राध्यापन के बाद अमेरिका में ब्लूमिंगटन इंडियाना विश्वविद्यालय में शोध। बाद में विस्कांसिन विश्वविद्यालय, मैडीसन में दक्षिणेशियाई विभाग की प्रोफेसर।

उषाजी के कथासाहित्य में शहरी परिवारों के बड़े ही अनुभूतिप्रवण चित्र हैं, और आधुनिक जीवन की उदासी, अकेलेपन, ऊब आदि का अंकन करने में उन्होंने अत्यंत गहरे यथार्थबोध का परिचय दिया है।

कृतियाँ :

उपन्यास : पचपन खम्भे लाल दीवारें, रुकोगी नहीं राधिका, शेष यात्रा, अन्तर्वंशी, भया कबीर उदास।

कहानी-संग्रह : जिन्दगी और गुलाब के फूल : (पैरम्बुलेटर, मोहबन्ध, जाले, छुट्टी का दिन, कच्चे धागे, पूर्ति, कँटीली छाँह, दो अँधेरे, चाँद चलता रहा, दृष्टि-दोष, वापसी, जिन्दगी और गुलाब के फूल।), एक कोई दूसरा : (एक कोई दूसरा, झूठा दर्पण, कोई नहीं, सागर पार का संगीत, पिघलती हुई बर्फ़, चाँदनी में बर्फ़ पर, टूटे हुए।), मेरी प्रिय कहानियाँ, संपूर्ण कहानियाँ।

अन्य : शून्य तथा अन्य रचनाएँ, हिन्दी कहानियाँ (अंग्रेजी में अनुवाद); मीराबाई, सूरदास (अंग्रेजी में लिखित)।

अन्तर्वंशी

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 295

अमेरिकावासी पात्रों और परिवारों की जिंदगी को उनके आपसी संबंधों और संघर्षों को गहरी अंतर्दृष्टि और पर्यवेक्षण सामर्थ्य से उद्घाटित करता उपन्यास   आगे...

एक कोई दूसरा

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 125

उषा प्रियंवदा की श्रेष्ठ कहानियाँ....   आगे...

कितना बड़ा झूठ

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 250

प्रस्तुत संग्रह की अधिकांश कहानियाँ अमेरिकी अथवा यूरोपीय परिवेश में लिखी गई हैं....   आगे...

जिन्दगी और गुलाब के फूल

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 85

प्रख्यात हिन्दी कहानीकार उषा प्रियंवदा की ये कहानियाँ सभी अर्थों में जीवन्त हैं,बिलकुल आज की हैं,आज के मन और आज के जीवन की है।

  आगे...

नदी

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 395

हिन्दी कथा-साहित्य में अविस्मरणीय ख्याति प्राप्त कर चुकीं उषा प्रियम्वदा का यह नया उपन्यास पठनीयता का पुनर्नवन है।   आगे...

पचपन खम्भे लाल दीवारें

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 250

इस पुस्तक में आधुनिक युग के जीवन की कथा का वर्णन हुआ है...   आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ: उषा प्रियंवदा

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 195

1952 से 1989 तक के कालखंड में फैली उषा प्रियम्वदा की कहानियों का अधिकांश साठ के दशक में उनके विदेश प्रवास के बाद आया है।   आगे...

बनवास

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 150

उषा प्रियंवदा की बनवास, एक और बिदाई, चहारदीवारी, पचपन खंभे लाल दीवारें और वापसी जैसी मील की पत्थर कहानियाँ पहली बार एक ही संकलन में   आगे...

भया कबीर उदास

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 250

बहुत नई-सी दिखने वाली कथाभूमि पर, बहुत सहज ढंग से मानव-मन की चिरन्तन लालसाओं, कामनाओं, निराशाओं और उदासियों का अत्यन्त कुशल और समग्र अंकन...   आगे...

रुकोगी नहीं राधिका

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 225

यह लघु उपन्यास प्रवासी भारतीयों की मानसिकता में गहरे उतरकर बड़ी संवेदनशीलता से परत-दर-परत उनके असमंजस को पकडने का सार्थक प्रयास है...   आगे...

 

 1 2 >   View All >>   12 पुस्तकें हैं|