Shivram Karant/शिवराम कारंत
लोगों की राय

लेखक:

शिवराम कारंत

पगले मन के दस चेहरे

शिवराम कारंत

मूल्य: Rs. 320

डॉ कारंत की यह आत्मकथा एक प्रकाश-स्तम्भ की तरह है। यह संघर्ष करना तो सिखलाती ही है, सफलता का आत्म-विश्वास भी पैदा करती है...   आगे...

मूकज्जी

शिवराम कारंत

मूल्य: Rs. 180

प्रस्तुत है एक अतीन्द्रिय लोक-कथा पर आधारित उपन्यास....   आगे...

मूकज्जी (मूक आजीमाँ)

शिवराम कारंत

मूल्य: Rs. 180

मूकज्जी' अर्थात मूक आजीमाँ, एक ऐसी विधवा वृद्धा, जिसमें वेदना सहते-सहते, मानवीय विषमताओं को देखते-बूझते, प्रकृति के खुले प्रांगण में बरसों से पीपल तले उठते-बैठते, सब कुछ मन-ही-मन गुनते, एक ऐसी अद्भुत क्षमता जाग्रत हो गयी है कि   आगे...

मृत्यु के बाद

शिवराम कारंत

मूल्य: Rs. 45

भारतीय ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित प्रख्यात उपन्यासकार शिवराम कारंत का कन्नड़ से अनूदित उपन्यास...   आगे...

 

  View All >>   4 पुस्तकें हैं|