लुक/luk
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

लुकंजन  : पुं० =लोपांजन। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकंदर  : वि० [हिं० लुकना] १. (वह) जो लुक-छिप जाता हो। २. फलतः सामना या मुकाबला न करनेवाला। भग्गू।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुक  : पुं० [सं० लोक=चमकना] १. वह लेप जिसे फेरने से वस्तुओं पर चमक आ जाती है। चमकदार रोगन। वार्निश। क्रि० वि०—फेरना। २. आग की लपक। ज्वाला। लौ।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकना  : अ० [सं० लुक=लोप] ऐसी जगह जाकर रहना, जहाँ कोई देख न सके। आड़ में होना। छिपना। संयो० क्रि०—जाना।—रहना। पद—लुक-छिपकर-ऐसे प्रकार से या रूप में जिसमें लोग देख न सकें। चोरी से।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकमा  : पुं० [अ० लुकमा] भोजन का उतना अंश जितना एक बार मुँह में डाला या लिया जाय। कौर। ग्रास। निवाला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुक़मान  : पुं० [अ०] कुरान में वर्णित एक हकीम जो अपनी बुद्धिमत्ता के लिए प्रसिद्ध है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकरी  : स्त्री० =लुकारी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकसाज़  : पुं० [हिं० लुक=चमकीला+फा० साज़] १. वह जो लुक अर्थात् चमकदार लेप बनाता या लगाता हो। २. एक प्रकार का चमड़ा जो सिझाया और चमकीला किया हुआ होता है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुका-छिपी  : स्त्री० [हिं० लुकना+छिपना] १. लुकने-छिपने की क्रिया या भाव। २. लुकने-छिपने का बच्चों का एक खेल।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकाठ  : पुं० [चीनी लु+क्यू से सं० लकुट] १. एक प्रकार का पेड़ जिसके फल आमड़े के बराबर और खाने में खट्टे-मीठे होते हैं। २. उक्त फल।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकाना  : स० [हिं० लुकना] [भाव० लुकाना] लुकने में प्रवृत्त करना। छिपाना। अ०=लुकना। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकारी  : स्त्री० [हिं० लुक] १. फूस का पूला या लकड़ी जिसका एक छोर जलता हो। मशाल की तरह जलती हुई लकड़ी। २. अग्नि। आग।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकाव  : पुं० [हिं० लुकाना] लुकाने की क्रिया या भाव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकेठा  : पुं० =लुआठा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुकोना  : स०=लुकाना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुक्क  : पुं० =लुक।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लुक्का  : पुं० [हिं० लुकना] लुक छिपकर दुष्कर्म करनेवाला या दुष्ट व्यक्ति। उदाहरण—हमने न मालूम तुम सरीखे कितने लुक्कों को तो चुटकी से ही मसल दिया है।—वृन्दावनलाल वर्मा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ