बैरा/baira
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बैरा  : पुं० [देश०] १. हल के मूठे में बाँधा जानेवाला एक प्रकार का चोंगा जिसमें बोते समय बीज डाले जाते हैं। माला। २. ईट के टुकड़े, रोड़े आदि जो मेहराब बनाते समय उसमें चुनी हुई ईटों को जमी रखने के लिए खाली स्थान में भर देते हैं। पु० [अ० बेयरर] होटलों आदि में वह व्यक्ति जो अभ्यागतों को भोजन पहुँचाता है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बैराखी  : स्त्री०=बेरखी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बैराग  : पुं०=बैराग्य।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बैरागर  : पुं० [बैर ?+सं० आगार] रत्नों आदि की खान। उदा०—गुणमणि बैरागर धीरज को सागर।—केशव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बैरागी  : पुं०=वैरागी।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बैराग्य  : पुं०=वैराग्य।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बैराना  : अ० [हिं० बाई=वायु] वातग्रस्त होना। अ०=बौराना। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ