बीदरी/beedaree
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बीदरी  : स्त्री० [हिं० बीदर] जस्ते और ताँबें के मेल में बरतन आदि बनाने का काम जिसमें बीच-बीच में सोने या चाँदी के तारों से नक्काशी की हुई होती है। बीदर की धातु का काम। वि० १. बीदर-संबंधी। बीदर का। २. बीदरी की धातु का बना हुआ।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बीदरीसाज  : पुं० [हिं० बीदर+फा० साज] वह जो बीदर की धातु से बरतन आदि बनाता हो। बीदर का काम बननेवाला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ