बिछना/bichhana
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बिछना  : अ० [हिं० बिछाना का अ०] १. (बिस्तर आदि का) बिछाया जाना। फैलाना जाना। २. (छोटी-छोटी चीजों का दूर तक फैलाया या बिखेरा जाना। जैसे—जमीन पर फूलों का बिछना। ३. (व्यक्ति का) मारे-पीटे जाने के कारण पर गिर या लेट जाना। जैसे—दंगो में बहुत से आदमी बिछ गये (या लाशे बिछ गई)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ