बिचकाना/bichakaana
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बिचकाना  : स० [हिं० बिचकना का स०] १. कोई चीज देखकर उसके प्रति अपनी अप्रसन्नता अरुचि आदि प्रकट करते हुए मुँग कुछ टेढ़ा करना। जैसे—किसी को देखकर या किसी चीज के अप्रिय स्वाद के कारण मुँह बिचकाना। २. किसी का उपहास करने या मुँह चिढ़ाने के लिए उसकी तरह कुछ विकृत मुँह बनाना। किसी को चिढ़ाने के लिये बिगाड़कर उसी की तरह मुँह बनाना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ