बावन/baavan
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बावन  : वि० [सं० द्वि पंचाशतः, पा० द्विपष्णासा, प्रा० विपण्णा] जो गिनती में पचास से दो अधिक हो। पद—बावन तोले पाव रत्ती=हर तरह से ठीक और पूरा। विशेष—कहतें है कि मध्ययुग के रसायनिकों का विश्वास था कि खरा रसायन वही है जो बावन तोले ताँबे में पाव रत्ती मिलाया जाय तो वह सब सोना हो जाता है। इसी आधार पर यह पद बना है। बावनवीर=बहुत बड़ा बहादुर या चालाक। पुं, ० उक्त की सूचक संख्या जो इस प्रकार लिखी जाती है।—५२। पुं०=वामन।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बावनवाँ  : वि० [हिं० बावन+वाँ (प्रत्यय)] [स्त्री० बावनवीं] क्रम, संख्या आदि के विचार से ५२ के स्थान पर पड़नेवाला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बावना  : वि०=बौना (वामन)। स०=बाहना (हल चलाना)। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बावनी  : स्त्री० [हिं० बावन] १. एक ही तरह की ५२ चीजों का वर्ग या समूह। जैसे—शिवा बावनी। २. बहुत से लोगों का जमावड़ा या समूह। ३. मध्ययुग में वह वर्ग या समुदाय जो होली के अवसर पर नाच-गाने आदि की व्यवस्था करता था। ४. ठठोलों या मसखरी का दल या वर्ग। ५. ताश के कोट-पीस के खेल में वह स्थिति जब कोई पक्ष तेरहों हाथ बनाता है और जबकि दूसरा पक्ष एक भी हाथ नहीं बना पाता। इसमें ५२ बाजियों की जीत मानी जाती है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ