बानी/baanee
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बानी  : स्त्री० [सं० वाणी] १. मुँह से निकला हुआ सार्थक शब्द, बात या वचन। २. दृढ़ता या प्रतिज्ञापूर्वक कही हुई बात। ३. साधु-महात्माओं की उपदेशपूर्ण बात। जैसे—कबीर, दादू या नानक की बानी। ४. मनौती। मन्नत। ५. सरस्वती। ६. दे० ‘वाणी’। स्त्री० [सं० वाण] बाना नामक हथियार। स्त्री० [सं० वर्ण] १. रंग। वर्ण। २. आभा। कांति। चमक। जैसे—बारह बानी का सोना। (दे० ‘बारह बानी’) उदा०—एक रूप बानी जाके पानी की रहति है।—सेनापति। ३. एक प्रकार की पीली मिट्टी जिससे पकाये जाने से पहले मिट्टी के बरतन रंगे जाते है। कपसा। वि० [फा] १. किसी काम या बात की बुनियाद (नींव) डालने या जड़ जमानेवाला। २. आरंभिक या मूल प्रवर्तक। पुं० [सं० वणिक्] बनिया।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ