बहलाना/bahalaana
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बहलाना  : स० [फा० बहाल=अच्छी या ठीक दशा में] १. कष्ट, रोग, विरक्ति आदि की दशा में दुःखी या चिन्तित को इधर-उधर की बातों में लगाकर प्रसन्न, शांत या सुखी करने का प्रयत्न करना। जैसे—बीमारी के दिनों में पड़ा पड़ा मैं ताश खेलकर मन बहला लेता था। २. झंझट या बखेड़े की बातों से अलग रहकर मन की चिंताएँ दूर करने का प्रयत्नकरना। मनोरंजक कामों, चीजों या बातों से मन पर पड़ा हुआ भार हलका करना। ३. किसी एक काम या बात में लगा हुआ मन इस उद्देश्य से किसी दूसरे काम या बात में लगाना कि शिथिलता दूर हो जाय और प्रफुल्लता आ जाय। जैसे—वह हर एतवार को मन बहलाने के लिए बगीचे चले जाया करते हैं। ४. इधर-उधर की बातें करके किसी को भुलावा देते हुए उसका ध्यान या मन दूसरी ओर लगाना। जैसे—रोते हुए लड़के को बहलाने के लिए उसे खिलौना देना। संयो० क्रि०—देना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ