बहलना/bahalana
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बहलना  : अ० [हिं० बहलाना का अ०] १. ऊबे, थके, खाली बैठे या दुःखी व्यक्ति अथवा उसके मन का मनोरंजक या रमणीक वस्तुओं से परचना या कुछ समय के लिए प्रसन्न और शांत होना। २. झंझट-बखेड़े, चिंता आदि की बात भूलकर मन का किसी दूसरी ओर लगना; और फलतः कुछ स्वस्थ या हलका अनुभव करना। जैसे—दिन भर काम करने के बाद संध्या को थोड़ा टहल लेने से मन बहल जाता है। संयो० क्रि०—जाना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ