बर्बर/barbar
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बर्बर  : पुं० [सं०√बर्ब् (जाना)+अरन्] १. प्राचीन काल में, आर्यों से भिन्न कोई व्यक्ति। २. उत्तर काल में कोई ऐसा व्यक्ति जिसमें आर्यों के से गुण न हों, बल्कि जो असभ्य, क्रूर और हिंसक हो। जंगली व्यक्ति। ३. जंगली जातियों का नृत्य। ४. अस्त्रों आदि की झंकार। ५. संगीत में कर्नाटकी पद्धति का एक राग। ६. घुँघराले बाल। ७. एक तरह का पौधा। ८. एक तरह की मछली। ९. एक तरह का कीड़ा। वि० [भाव० बर्बरता] १. जो असभ्य, क्रूर, जंगली और हिंसक हो। २. उद्धत। उद्दंड। ३. घुँघराला (बाल)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बर्बरक  : पुं० [सं० ] एक प्रकार का नक्षत्र जिसे शीत चन्दन भी कहते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बर्बरता  : स्त्री० [सं० बर्बर+तल्+टाप्] १. बर्बर अर्थात् परम असभ्य, क्रूर तथा हिंसक होने की अवस्था या भाव। २. बर्बर व्यक्ति का कोई विशिष्ट आचरण या कार्य।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बर्बरा  : स्त्री [सं० बर्बर+टाप्] १. बर्बरी। वन-तुलसी। २. एक प्रकार की मक्खी। २. एक प्राचीन नदी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बर्बरी  : स्त्री० [सं० बर्बर+ङीष्] १. बन तुलसी। २. ईंगुर। सिंदूर। ३. पीला चन्दन।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ