बंदर/bandar
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बदरंग  : वि० [फा० ] १. बुरे रंगवाला। २. जिसका रंग उड़ गया हो या फीका पड़ गया हो। ४. विवर्ण। ४. खराब। खोटा। ५. (ताश के खेलमें वह व्यक्ति) जिसके पास किसी विशिष्ट रंग का पत्ता न हो। पं० १. बदरंगी। २. चौसर के खेल में वह गोटी जो रंग न हुई हो, अर्थात् पूगनेवाले घर में न पहुँची हो।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरंगी  : स्त्री० [फा०] १. रंग का फीकापन या भद्दापन २. ताश के खेल में किसी विशिष्ट रंग के पत्ते न होने की स्थिति।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदर  : पुं० [सं०√बद् (स्थिर होना)+अरच्] १. बेर का पेड़ या फल। २. कपास। ३. बिनौला। क्रि० वि० [फा०] दरवाजे पर। जैसे—दर-बदर भीख माँगना। मुहावरा—(किसी को) बदर करना-=घर से निकालकर दरवाजे के बाहर कर देना। जैसे—किसी को शहर बदर करना अर्थात् इसलिए दरवाजे तक पहुँचा देना कि वह जहाँ चाहे चला जाय, परन्तु लौटकर न आये। (किसी के नाम) बदर निकालना=किसी के जिम्में रकम बाकी निकालना। किसी के हिसाब मे उसके नाम बाकी बताना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदर-नवीसी  : स्त्री० [फा०] १. हिसाब-किताब की जाँच। २. हिसाब-किताब में से गड़बड़ रकमें छाँटकर निकाल अलग करना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरा  : स्त्री० [फा० बदर+टाप्] वराह क्रांति का पौधा। पुं०=बादल (मेघ)। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदराई  : स्त्री०=बदली (आकाश की मेघाच्छन्नता)। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरामलक  : पुं० [सं० उपमि० स०] पानी आमला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरि  : पुं० [सं०√बद् (स्थिर होना)+अरि, बा०] १. बेर का पेड़। उक्त पेड़ का फल।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरिका  : स्त्री० [सं० बदरी+कन्+टाप्, ह्रस्व] १. बेर का पेड़ और उसका फल। बदरि। २. गंगा का उद्गम स्थान तथा उसके आस-पास का क्षेत्र।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरिकाश्रम  : पुं० [सं० बदरिका-आश्रम, मध्य० स०] उत्तर प्रदेश के गढ़वाल जिले के अन्तर्गत एक प्रसिद्ध तीर्थ-स्थल जहाँ किसी समय नर-नारायण ऋषियों ने तपस्या की थी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरी  : स्त्री० [सं० बदर+ङीष्] बेर का पेड़ और उसका फल। बदरि। स्त्री०=बदली। स्त्री० [देश] १. थैली। २. बोझ। ३. माल का बाहर भेजा जाना। (यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरीच्छद  : पुं० [सं० ब० स०] एक तरह का गंध द्रव्य।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरी-नाथ  : पुं० [सं० ष० त०] १. बदरिकाश्रम नाम का तीर्थ। २. उक्त तीर्थ के देवता या उनकी मूर्ति।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरी-नारायण  : पुं० [सं० ष० त०] बदरी-नाथ।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरी-पत्रक  : पुं० [सं० ब० स०+कन्] एक प्रकार का सुगन्ध द्रव्य। नखरी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरीफला  : स्त्री० [सं० ब० स०] नील शेफालिका का वृक्ष और उसका फल।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरीबण  : पुं०=बदरीवन।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरी-वन  : पुं० [सं० ष० त०] १. वह स्थान जहां बेर के बहुत से फेड़ हैं। २. बदरिकाश्रम।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरुन  : पुं० [?] पत्थर या लकड़ी में की जानेवाली एक प्रकार की जालीदार नक्काशी जिसमें बहुत से कोने होते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरोब  : वि० [फा०+अ०] [भाव० बदरोबी] १. जिसका रोब होना तो चाहिए, फिर भी कुछ रोब न हो २. तुच्छ। ३. भद्दा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरौंह  : वि० [फा० बदरी] बदचलन। बदराह। पुं० [हिं० बादल] आकाश में छाये हुए हलके बादल।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
बदरौनक  : वि० [फा० बदरौनक़] १. जिसमें कोई शोभा न हो। श्री-हीन। २. उजाड़।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ