बत-कही/bat-kahee
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बत-कही  : स्त्री० [हिं० बात+कहना] १. साधारणतः केवल मन वहलाने या सम बिताने के लिए की जानेवाली इधर-उधर की बात-चीत। उदाहरण—करत बत-कही अनुज सम मन सिय-रूप लुभान।—तुलसी। २. बात-चीत की तरह का बहुत ही तुच्छ या साधारण काम। उदाहरण—दसकंधर मारीच बत-कही।—तुलसी। ३. बाद-विवाद। कहा-सुनी। तकरार। ४. झूठ-मूठ या मन से गढ़कर कही जानेवाली बात।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ