बजरी/bajaree
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बजरी  : स्त्री० [सं० वज्र] १. पत्थर को तोड़कर बनाये जानेवाले वे छोटे-छोटे टुकड़े जो फरश, सड़क आदि बनाने के काम आते हैं। २. आकाश से गिरनेवाला पत्थर। ओला। ३. वह छोटा नुमायशी कँगूरा जो किले आदि की दीवारों के ऊपरी भाग में बराबर थोड़े-थोड़े अंतर पर बनाया जाता है और जिसकी बगल में गोलियाँ चलाने के लिए कुछ अवकाश रहता है। स्त्री० [हिं० बाजरा] वह बाजरा जिसके दाने बहुत छोटे-छोटे हों।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ