बकना/bakana
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

बकना  : स० [सं० वचन] १. उटपटाँग या व्यर्थ की बहुत सी बातें कहना। व्यर्थ बहुत बोलना। पद—बकना-झकना=क्रोध में आकर बिगड़ते हुए बहुत-सी खरी खोटी बातें कहना। २. निरर्थक बातों या शब्दों का उच्चारण करना। प्रलाप करना। बड़बड़ाना। ३. विवश होकर अपने अपराध या दोष के संबंध की सब बातें बताना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ