तोमर/tomar
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

तोमर  : पुं० [सं०√तुम्प् (मारना)+अर्, पृषो० सिद्धि] १. भाले की तरह का एक प्राचीन अस्त्र। २. पुराणानुसार एक प्रावीं से चीन देश। ३. उक्त देश का निवासी। ४. राजपूतों की एक जाति। विशेष–इसी जाति ने ८वीं० से १२वीं शती तक दिल्ली में शासन किया था। अनंगपाल, जयपाल इसी वंश के राजा थे। ५. बारह मात्राओं का एक छन्द जिसके अंत में एक गुरु और एक लघु होता है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तोमरिका  : स्त्री० [सं०तोमर+कन्-टाप्,इत्व] १.गोपी। चंदन। २. अरहर।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तोमरी  : स्त्री० [हिं० तुमड़ी] तूंबड़ी।(यह शब्द केवल पद्य में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ