तिम/tim
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

तिमंजिला  : वि० [हिं० तीन+अ० मंजिल] [स्त्री० तिमंजिली](भवन) जिसके तीन खंड या मंजिले हों।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिम  : पुं० [हिं० डिडिंम] डंका। नगाड़ा डि०)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमाना  : स० [देश] भिगोना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमाशी  : स्त्री० [हिं० तीन+माशा] १.तीन माशे की एक तौल। २.उक्त तौल का बटखरा या बाट। ३.पहाड़ी देशों की एक तौल जो ४॰ जौ की होती है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिंगिल  : पुं० [सं०तिमि√गृ(लीलना)+क,मुम्] १.मसुद्र में रहनेवाला एक प्रकार का बहुत बड़ा भारी जंतु जो तिमि नामक बड़े मत्यस्य को भी निकल सकता है। बड़ी भारी ह्वेव। २.एक प्राचीन द्वीप का नाम। ३.उक्त द्वीप का निवासी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिंगिलासन  : पुं० [सं०तिमिंगिल-अशन,ष०त०] १.दक्षिण का एक देश जिसके अंतर्गत लंका आदि है और जहाँ के निवासी तिमिंगिल मत्स्य का मांस खाते हैं। (बृहत्संहिता) २.उक्त देश का निवासी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमि  : पुं० [सं०√तिम्(गीला होना)+इन्] १.एक तरह की समुद्री बड़ी मछली २.समुद्र। सागर। ३.आँखों का रतौंधी नामक रोग। अव्य० [सं०तर्+इमि] उस प्रकार। वैसे।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिज  : पुं०[सं०तिमि√जन्(पैदा होना)+ड] तिमि मत्स्य से निकलनेवाला मोती। (बृहत्संहिता)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमित  : वि० [सं०√तिम्+क्त] १.अचल। निश्चल। स्थिर। २.भीगा हुआ । आर्द्र। गीला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमि-ध्वज  : पुं० [ब० स०] शंबर नामक दैत्य जिसे मारकर रामचन्द्र ने ब्रह्मा से दिव्याशास्त्र प्राप्त किया था।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिर  : पुं० [सं०√तिम्+किरच्] १.अँधकार। अँधेरा। २.आँखों का एक रोग जिसमें चीजें,धुँधली, फीके रंग की या रंग-बिरंगी दिखाई देती हैं। वैद्यक में रतौंधी रोग को भी इसी के अन्तर्गत माना है। ३.एक प्रकार का वृक्ष।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिरनुद्  : वि० [सं०तिमिर√नुद्(नष्ट करना)+क्विप] अँधकार का नाश करनेवाला। पुं० सूर्य।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिरभिद्  : वि० [सं० तिमिर√नुद्(भेदना)+क्विप्] अंधकार को भेदने या नष्ट करनेवाला। पुं० सूर्य।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिरमय  : वि० [सं० तिमिर+मयट्] जिसमें अँधकार हो। अंधकार पूर्ण। अंधकार से युक्त। पुं०१,०राहु। २.ग्रहण। (सूर्य चंद्र आदि का)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिर  : रिपु-पुं० [ष० त०] अंधकार का शत्रु, सूर्य़।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिरहर  : वि० [सं०तिमिर√हृ(हरना)+अच्] तिमिर या अंधकार दूर करनेवाला। पुं० १.सूर्य। २.दीपक। दीया।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिरांत  : पुं० [तिमिर-अंत,ष०त०] अंधकार का शत्रु अर्थात् सूर्य।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिरारी  : स्त्री० [तिमिर-अरि,ष० त०] अँधकार। अँधेरा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिला  : स्त्री० [सं०] पुरानी चाल का एक तरह का बाजा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिश  : पुं०=तिनिश। (वृक्ष)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमिष  : पुं० [सं०√तिम्(गीला होना)+इसक्(षत्व)] १.ककड़ी २.सपेद कुम्हड़ा। ३.पेठा। ४.तरबूज।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमी  : पुं० [सं०तिमि+ङीष्] १.तिमि नाम की मछली। २.दक्ष की एक कन्या जो कश्यप को ब्याही थी और जिससे तिमिगलों की उत्पत्ति कही गई है।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमीर  : पुं० [सं० तिमि√ईर्(गति)+अच्] एक तरह का पेड़।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमुहानी  : स्त्री०=तिरमुहानी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
तिमुर  : पुं० [सं० तुमुल, ल–र] क्षत्रियों की एक प्राचीन जाति या वंश। वि० पुं०=तुमुल।(यह शब्द केवल स्थानिक रूप में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ