ताव-भाव/taav-bhaav
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

ताव-भाव  : पुं० [हिं० ताव+भाव] १.वह स्थिति जो किसी काम,बात या व्यक्ति की विशिष्ट प्रवृत्ति या स्वरूप के कारण उत्पन्न होती है और जिससे उसके बल,मान,वेग आदि का अनुमान किया जाता है। जैसे–जरा उनका ताव-भाव तो देख लो,फिर समझौते की बातचीत चलाना। २.किसी काम,चीज या बात की ठीक-ठाक अन्दाज या हिसाब। जैसे–वह तरकारी में बहुत ताव-भाव से मसाले डालता है। ३.ऐंठ। ठसक। शेखी। जैसे–जरा देखिए तो आप कैसे ताव-भाव से चले आ रहे हैं। ४.रंग-ढंग। तौर-तरीका।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ