डेवढ़/devadh
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

डेवढ़  : पुं० [हिं० ड्योढ़ा०] किसी उद्देश्य की पूर्ति या कार्य की सिद्धि की ऐसी स्थिति जो विशेष युक्ति से उत्पन्न की गई हो। क्रि० प्र०–बैठना।–बैठाना। वि०=ड्योढ़ा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
डेवढ़ना  : अ० [हिं० डेवढ़] १. डेढ़ गुना या ड्योढ़ा होना। २. आँच पर पकने के समय रोटी का फूलकर बहुत-कुछ डेढ़ परतों के रूप में होना। स० १. डेढ़ गुना या ड्योढ़ा करना। २. कपड़े, कागज आदि को कई परतों में मोड़ना। ३. रोटी पकाते समय उसे आँच पर इस प्रकार फुलाना कि मानों वह डेढ़ परतों की हो जाय।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
डेवढ़ा  : वि० पु०=ड्योढ़ा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
डेवढ़ी  : स्त्री० १.=ड्य़ोढ़ी। २.=डेढ़ी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ