गाथा/gaatha
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

गाथा  : स्त्री० [सं० गाथ+टाप्] १. गीत, विशेषतः अपनी रमणीयता के कारण सब तरह के लोगों में गाया जानेवाला गीत। २. प्राकृत भाषा का एक छंद जिसमें उक्त प्रकार के गीत लिखे जाते थे। विशेष-इन गीतों में किसी के किए हुए यज्ञों आदि का प्रशंसात्मक उल्लेख होता था। ३. परवर्ती काल में, आर्या छंद का एक भेद या रूप जिसमें पाली, प्राकृत आदि में ऐसी रचनाएँ होती थी, जिनमें ताल स्वर आदि के नियमों का बंधन नहीं होता था। ४. छोटे-छोटे पद्यों में बहुत ही सीधे सादे ढंग सें और विस्तारपूर्वक कही हुई वह प्रभावोत्पादक कथा जिसमें प्रायः सच्ची घटनाओं या विशिष्ट तथ्यों का वर्णनहोता है। (बैलड) ५. पारसियों तथा बौद्धों के धर्मग्रंथों मे की उक्त प्रकार की रचनाएँ। ६. कोई कथा या वृत्तांत। ७. किसी की प्रशंसा या स्तुति।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गाथाकार  : पुं० [सं० गाथा√कृ (करना)+अण्] १. गाथाएं रचनेवाला। २. महाकाव्य का रचयिता। ३. गायक।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ