गद्य/gady
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

गद्य  : पुं० [सं०√गद् (बोलना)+यत्] १. बोल चाल की भाषा में लिखने का वह लेखन प्रकार जिसमें अलंकार, मात्रा, वर्ण, लय आदि के बन्धन का विचार नही होता। वचनिका। पद्य का विपर्याय। (प्रोज) २. ऐसी सीधी-सादी बोली या भाषा जिसमें किसी प्रकार की बनावट न हो।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गद्य-काव्य  : पुं० [कर्म० स० ] वह गद्य जिसमें कुछ भाव या भावनाएँ ऐसी कवित्वपूर्ण सुन्दरता से व्यक्त की गई हों कि उसमें काव्य की सी संवेदनशीलता तथा सरसता आ जाय।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गद्याणक  : पुं० [सं० गद्याण+कन्] कलिंग देश का एक प्राचीन मान।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
गद्यात्मक  : वि० [सं० गद्य-आत्मन्, ब०स० कप्] [स्त्री० गद्यत्मिका] १.गद्य के रूप में लिखा हुआ। २. गद्य-संबंधी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ