आसंद/aasand
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

आसंद  : पुं० [सं० आ√सद्(बैठना)+घञ्, नुम्] विष्णु या वासुदेव।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
आसंदी  : स्त्री० [सं० आ√सद्+(नि०)अच्,नुम्-ङीष्] १. बैठने का कुछ ऊँचा छोटा आसन। जैसे—चौकी, मोढा आदि। २. खटोला।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ