आश्रित/aashrit
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

आश्रित  : वि० [सं० आ√श्रि+क्त] १. किसी के सहारे, टिका, ठहरा या रुका हुआ। २. किसी की देख-रेख या शरण में रहकर अपना निर्वाह या रक्षा करनेवाला। ३. अपने भरण-पोषण आदि के लिए किसी दूसरे व्यक्ति के भरोसे रहनेवाला। पं० १. न्याय-दर्शन में अनित्य द्रव्यों की वह अवस्था जिसमें वे किसी न किसी रूप में एक दूसरे का आश्रय लेकर रहते और एक दूसरे के सहारे अपना काम करते हैं। २. दास। गुलाम। ३. नौकर। सेवक। ४. आज-कल वह व्यक्ति जो अपनी किसी शारीरिक असमर्थता, हीनता आदि के कारण किसी दूसरे की देख-रेख में रहता हो। (वार्ड) जैसे—आजकल उनके पास दो बालक (अथवा चार विधवाएँ) आश्रित हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ