आर्ष-विवाह/aarsh-vivaah
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

आर्ष-विवाह  : पुं० [सं० कर्म० स०] स्मृतियों के अनुसार आठ प्रकार के विवाहों में से तीसरा जिसमें कन्या का पिता वर से दो गौएँ या बैल शुल्क के रूप में लेकर उसे अपनी कन्या देता था।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ