अपाव/apaav
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

अपाव  : पुं० [सं० अपाय=नाश] १. अन्याय। २. उत्पात। उपद्रव। ३. खराबी। बुराई।(यह शब्द केवल पद्य में प्रयुक्त हुआ है)
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
अपावन  : वि० [सं० न० त०] जो पावन या पवित्र न हो। अपवित्र।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
अपावरण  : पुं० [सं० अप-आ√व्(ढँकना)+ल्युट्-अन] १. आवरण हटाना। २. फिर से प्रकाश में या सामने लाना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
अपावर्तन  : पुं० [सं० अप-आ√वृत् (बरतना)+ल्युट्-अन] १. पीछे की ओर आना या हटना। २. कथन, वचन आदि का पालन न करना या उसके पालन से पीछे हटना। (रिट्रीट) ३. लौटना। वापस आना। ४. भागना। ५. चक्कर लगाना। घूमना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
अपावृत  : वि० [सं० अप-आ√वृ (आच्छादन)+क्त] १. जिस पर से आवरण हटा दिया गया हो। २. जो फिर से प्रकाश में लाया गया हो। ३. जो नियंत्रण में न हो। अनियंत्रित।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
अपावृति  : स्त्री० [सं० अप-आ√वृ+क्तिन्] १. अपावर्तन। २. छिपने का स्थान।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
अपावृत्त  : भू० कृ० [सं० अप-आ√वृत् (बरतना)+क्त] १. लौटाया या पीछे हटाया हुआ। २. तिरस्कार पूर्वक अस्वीकृत किया हुआ।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ