मध्यकालीन भारत में प्रौद्योगिकी - इरफान हबीब Madhyakalin Bharat Mein Prodhyogiki - Hindi book by - Irfan Habib
लोगों की राय

इतिहास और राजनीति >> मध्यकालीन भारत में प्रौद्योगिकी

मध्यकालीन भारत में प्रौद्योगिकी

इरफान हबीब

प्रकाशक : राजकमल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2016
पृष्ठ :159
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 9381
आईएसबीएन :9788126727919

Like this Hindi book 4 पाठकों को प्रिय

261 पाठक हैं

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

भारत का लोक इतिहास श्रृंखला की यह कड़ी भारतीय इतिहास के उस पहलू पर दृष्टिपात करती है जिस पर अभी तक बहुत कम काम हुआ है ! इसमें आम-जन के साधारणतम औजारों से लेकर खगोल-वैज्ञानिकों के उपकरणों और युद्ध में काम आनेवाले हथियारों तक के विकास को रेखांकित किया गया है ! अध्ययन का मुख्य तत्व यह है कि यह पूर्णतया ऐतिहासिक है, तकनीक के विकास-क्रम की खोज न सिर्फ प्रमाणों के साथ की गई है बल्कि उनके सामाजिक और आर्थिक परिणामों को भी विस्तार से समझा गया है !

श्रृंखला की अन्य पुस्तकों की तरह इसमें भी मूल दस्तावेजों के उद्धरणों और आधुनिक-पूर्व तकनीक के विषय में विशिष्ट सूचनाएँ दी गई हैं ! तकनीकी शब्दावली, तकनीक के ऐतिहासिक स्रोतों और भारत से बाहर विकसित होनेवाली मध्यकालीन तकनीक पर विशेष टिप्पणियाँ भी दी गई हैं ! छात्रों और सामान्य पाठकों को ध्यान में रखते हुए कोशिश की गई है कि प्रमाणिकता को हानि पहुंचाए बिना पुस्तक जितनी सरल हो सकती है उतनी हो सके !

उम्मीद है कि सिर्फ इतिहासकारों को ही नहीं हर उस पाठक को यह प्रस्तुति मूल्यवान लगेगी जो यह जानना चाहते हैं कि प्राचीन युग में जनसाधारण, आम स्त्री और पुरुषों ने अपने हाथों और औजारों से क्या कुछ किया !


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book