आधुनिक भारत में सामाजिक परिवर्तन - एम. एन. श्रीनिवास Aadhunik Bharat Mein Samajik Parivartan - Hindi book by - M. N. Shrinivas
लोगों की राय

सामाजिक विमर्श >> आधुनिक भारत में सामाजिक परिवर्तन

आधुनिक भारत में सामाजिक परिवर्तन

एम. एन. श्रीनिवास

प्रकाशक : राजकमल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2016
पृष्ठ :181
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 9241
आईएसबीएन :9788126717026

Like this Hindi book 10 पाठकों को प्रिय

94 पाठक हैं

आधुनिक भारत में सामाजिक परिवर्तन...

Aadhunik Bharat Mein Samajik Parivartan - A Hindi Book by M. N. Shrinivas

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

आधुनिक भारत में सामाजिक परिवर्तन भारत के प्रमुख समाज एवं विज्ञानवेत्ता एम.एन. श्रीनिवास की यह महत्त्वपूर्ण कृति विश्व-कवि रवीन्द्रनाथ ठाकुर - स्मृति-भाषणमाला के सारभूत तत्त्वों पर आधारित है। आधुनिक भारतीयता के संदर्भ में रवीन्द्रनाथ ठाकुर की विचारक के रूप में एक अलग महत्ता है। अपनी अमरीकी और यूरोपीय यात्राओं के दौरान विश्वकवि ने जो विचार प्रकट किए हैं वे इस बात का प्रमाण हैं कि भारतीय सामाजिक परिवर्तनों में पाश्चात्य प्रभावों के प्रति उनकी गहरी रुचि थी।

स्वाधीनता-प्राप्ति के बाद भारतीय समाज में पश्चिमीकरण की प्रक्रिया और भी तेज हुई है, जिसके व्यापक प्रभावों को सांस्कृतिक जीवन पर स्पष्ट देखा जा सकता है। लेखक ने इन प्रभावों को संस्कृतीकरण और पश्चिमीकरण के संदर्भ में व्याख्यायित किया है तथा एक अखिल भारतीय परिप्रेक्ष्य में देखने की आवश्यकता बताई है।

उसके अनुसार पश्चिमीकरण भारतीय समाज के किसी विशेष अंश तक सीमित नहीं है और उसका महत्त्व - उससे प्रभावित होनेवालों की संख्या और प्रभावित होने के प्रकार, दोनों ही दृष्टियों से लगातार बढ़ रहा है। वस्तुत आधुनिक भारतीय समाज के अन्तर्विकास और उसके अन्तर्विरोधों को समझने के लिए यह एक मूल्यवान पुस्तक है।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book