ककहरा कुपोषण का - सचिन कुमार जैन Kakhara Kuposhan Ka - Hindi book by - Sachin Kumar Jain
लोगों की राय

विविध >> ककहरा कुपोषण का

ककहरा कुपोषण का

सचिन कुमार जैन

प्रकाशक : विकास संवाद प्रकाशित वर्ष : 2013
पृष्ठ :46
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 8893
आईएसबीएन :9788192164687

Like this Hindi book 2 पाठकों को प्रिय

111 पाठक हैं

कुपोषण एक चुनौती भी है और सवाल भी...

Ek Break Ke Baad

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

कहाँ खो जाते है
रोशनी के पैमाने तमाम
जब सो जाते हैं बच्चे
भूख से आलिंगन करके,

कहाँ खो जाते हैं
वो रंगीन ख्वाब
जब खाली
रह जाती है थाली,

यह कैसी परंपरा है
ज्ञान की
जहाँ माँ सिखाती है
कोख में ही
अपने भ्रूण को
ककहरा कुपोषण का।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book