इतिहास - अमृत राय Itihas - Hindi book by - Amrit Rai
लोगों की राय

अतिरिक्त >> इतिहास

इतिहास

अमृत राय

प्रकाशक : भारतीय साहित्य संग्रह प्रकाशित वर्ष : 2011
पृष्ठ :150
मुखपृष्ठ :
पुस्तक क्रमांक : 8479
आईएसबीएन :0

Like this Hindi book 6 पाठकों को प्रिय

405 पाठक हैं

इतिहास पुस्तक का किंडल संस्करण...

Itihas - A Hindi EBook By Amrit Rai

किंडल संस्करण


लोग कहते हैं कि समाज में अपनी इज़्ज़त ब़ढ़ाने के लिए लोगों से मिलना-जुलना ज़रूरी होता है, लेकिन यह बात कुछ ठीक नहीं मालूम होती, क्योंकि बहुत से लोग सुमेर को शायद इसीलिए जानते हैं कि वह कहीं आता-जाता नहीं, किसी से मिलता–जुलता नहीं। कुछ लोग तो ‘फ़िलॉसफ़र’ कहकर अपने मन को समझा लेते हैं। कुछ लोग कहते हैं कि गणित विषय ही ऐसा है, इन्सान को निकम्मा बना देता है, दुनिया के किसी काम का नहीं रखता। कुछ लोग कहते हैं अपने को लगाता है। बहरहाल किसी ने कभी यह पता लगाने की जरूरत नहीं समझी कि उसकी ज़िन्दगी में अवकाश के क्षण हैं भी या नहीं। हजरत सफशिकन की मैयत पर सर धुनने वाले नवाब साहब को अगर कोई यह समझाने की कोशिश करता कि दुनिया में कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें अपनी प्यारी बीवी की मज़ार पर भी दो आँसू गिराने की फुर्सत नहीं होती तो वह कहते—क्या चण्डूखाने की उड़ायी तुमने मियाँ।
इस पुस्तक के कुछ पृष्ठ यहाँ देखें।


अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book