नन्हा पौधा - अन्नपूर्णा Nanha Paudha - Hindi book by - Annapoorna
लोगों की राय

नेहरू बाल पुस्तकालय >> नन्हा पौधा

नन्हा पौधा

अन्नपूर्णा

प्रकाशक : नेशनल बुक ट्रस्ट, इंडिया प्रकाशित वर्ष : 2006
पृष्ठ :15
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 6211
आईएसबीएन :81-237-4718-7

Like this Hindi book 7 पाठकों को प्रिय

49 पाठक हैं

बच्चों के लिए सुन्दर कविता, नन्हा पौधा......

Nanha Paudha-A Hindi Book by Jamar Jalil

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

नन्हा पौधा

 

स्कूल की घंटी टुनटुनटुन
टुन टुन टुन, टुन टुन टुन
घर के रास्ते दौड़े बच्चे
झुन झुन झुन, झुन झुन झुन

रास्ते में एक नन्हा पौधा
कुम्हलाया, मुरझाया पौधा
भूख प्यास से रोता पौधा
रानी बोली सुन सुन सुन
मोह सुन, मोती सुन
 
नन्हा पौधा रूठा है
जाने कब से भूखा है
पानी बिना यह सूखा है
हम सब इसको पानी दें
सन सन सन, सन सन सन

रानी घर से लाई पानी
सब ने उसे पिलाया पानी
नन्हा पौधा खड़ा हुआ
ताजा हुआ बड़ा हुआ
टुन मुन टुन मुन टुन मुन

मोहन खुश है, मोती खुश है
रानी सब से ज्यादा खुश है
साथ-साथ में कबरी बकरी
नाच-नाच कर वह भी खुश है
झुन झुन झुन, झुन झुन झुन




अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book