लोगों की राय

भारतीय जीवन और दर्शन >> पं दीनदयाल उपाध्याय : एकात्म मानव दर्शन की प्रासंगिकता

पं दीनदयाल उपाध्याय : एकात्म मानव दर्शन की प्रासंगिकता

डॉ. अलका द्विवेदी

प्रकाशक : आराधना ब्रदर्स प्रकाशित वर्ष : 2019
पृष्ठ :208
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 16175
आईएसबीएन :9788193959077

Like this Hindi book 0

पं दीनदयाल उपाध्याय : एकात्म मानव दर्शन की प्रासंगिकता

प्रथम पृष्ठ अगला पृष्ठ >>

 

 

प्रथम श्वास से प्रथम शब्द तक

प्रथम ज्ञान से प्रथम कर्म तक

जीवन के प्रारंभ से मेरे विश्व तक

मुझमें व्याप्त मेरे गुण धर्म में मिश्रित

मेरे पूज्य श्रद्धा-विश्वास रूपी

गुरु रूपी माँ श्रीमती सरला

एवं

मेरे प्रथम नायक से आराधक तक

पिताश्री नरेंद्र द्विवेदी जी

को सादर समर्पित।

- अलका द्विवेदी

Next...

प्रथम पृष्ठ अगला पृष्ठ >>

    अनुक्रम

  1. अनुक्रमणिका

लोगों की राय

No reviews for this book