Shakti Trivedi/शक्ति त्रिवेदी
लोगों की राय

लेखक:

शक्ति त्रिवेदी
सन् 1953 में पहली कहानी ‘प्यार और जलन’ छपी। पहला उपन्यास ‘खिलते फूल’ पाठकों द्वारा बहुत सराहा गया। साठ-सत्तर के दशक में ‘राजा सूरजमल’, (ऐतिहासिक उपन्यास), ‘हजार हाथ’ (पुरस्कृत), वैज्ञानिक कहानियों का संग्रह ‘उड़न तश्तरियों का रोमांच’, ‘खँडहर की मैना’ प्रकाशित। लगभग 50 वर्ष के लेखन में साहित्यिक, वैज्ञानिक, ऐतिहासिक विषयों पर 55 से अधिक पुस्तकें तथा विज्ञान एवं खाद्य कृषि समस्याओं पर एक दर्जन से अधिक पुस्तकें प्रकाशित।

‘रेगिस्तान के भगीरथ’ और ‘जीवों का संसार’ पुस्तकें भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों से पुरस्कृत। रेडियो नाटक, एकांकी एवं संपूर्ण नाटक, कविताएँ और लेख-वार्त्ताओं के प्रसारण-प्रकाशन की संख्या हजार से ऊपर। इन्हें राष्‍ट्रीय कृषि पत्रकार का पाँच हजार रुपए का पुरस्कार भी मिला है ।

रोचक व सरल शैली तथा बोलती हुई जीवंत भाषा इनकी अपनी विशेषता है । विज्ञान-जगत को इनसे बहुत आशाएँ हैं।
संप्रति : भारत सरकार के कृषि मंत्रालय में संपादक

खुली हवा

शक्ति त्रिवेदी

मूल्य: Rs. 350

एक सशक्त भावप्रवण कहानी   आगे...

तेजस्विनी

शक्ति त्रिवेदी

मूल्य: Rs. 200

प्रस्तुत है श्रेष्ठ कहानी संग्रह...   आगे...

विश्व के महान वैज्ञानिक उपन्यास

शक्ति त्रिवेदी

मूल्य: Rs. 75

विश्व के महान वैज्ञानिकों उपन्यास...   आगे...

 

  View All >>   3 पुस्तकें हैं|