Arun Shauri/अरुण शौरी
लोगों की राय

लेखक:

अरुण शौरी
सन् 1941 में जालंधर (पंजाब) में जनमे श्री अरुण शौरी ने दिल्ली के सेंट स्टीफेंस कॉलेज से अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद सिराक्यूज यूनिवर्सिटी, अमेरिका से अर्थशास्‍‍त्र में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्‍त की। राजग सरकार में वह विनिवेश, संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालयों सहित कई अन्य विभागों का कार्यभार सँभाल चुके हैं।

‘बिजनेस वीक’ ने वर्ष 2002 में उन्हें ‘स्टार ऑफ एशिया’ से सम्मानित किया था और ‘दि इकोनॉमिक टाइम्स’ द्वारा उन्हें ‘द बिजनेस लीडर ऑफ द इयर’ चुना गया था। ‘रेमन मैग्सेसे पुरस्कार’, ‘दादाभाई नौरोजी पुरस्कार’, ‘फ्रीडम टु पब्लिश अवार्ड’, ‘एस्टर पुरस्कार’, ‘इंटरनेशनल एडिटर ऑफ द इयर अवार्ड’ और ‘पद्मभूषण सम्मान’ सहित उन्हें कई अन्य राष्‍ट्रीय व अंतरराष्‍ट्रीय सम्मानों से सम्मानित किया जा चुका है।

वे ‘इंडियन एक्सप्रेस’ के संपादक रह चुके हैं। विएना स्थित अंतरराष्‍ट्रीय प्रेस संस्था ने पिछली अर्ध-शताब्दी में प्रेस की स्वतंत्रता की दिशा में किए गए उनके कार्यों के लिए उन्हें विश्‍व के पचास ‘वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम हीरोज’ में स्थान दिया है।

पच्चीस से अधिक पुस्तकें प्रकाशित।

चीन मित्र या ?

अरुण शौरी

मूल्य: Rs. 300

भारत-चीन संबंधों के अतीत ,वर्तमान व भविष्य की पड़ताल   आगे...

जाने-माने इतिहासकार : कार्यविधि दिशा और उनके छल

अरुण शौरी

मूल्य: Rs. 300

जाने-माने इतिहासकार : कार्यविधि दिशा और उनके छल   आगे...

फतवे उलेमा और उनकी दुनिया

अरुण शौरी

मूल्य: Rs. 500

फतवे उलेमा और उनकी दुनिया   आगे...

भारत में ईसाई धर्म-प्रचारतंत्र

अरुण शौरी

मूल्य: Rs. 400

भारत में ईसाई धर्म-प्रचारतंत्र   आगे...

भारत में पंचायती राज : परिप्रेक्ष्य और अनुभव

अरुण शौरी

मूल्य: Rs. 300

भारत में पंचायती राज : परिप्रेक्ष्य और अनुभव   आगे...

 

  View All >>   5 पुस्तकें हैं|