Vani Prakashan/वाणी प्रकाशन
लोगों की राय

वाणी प्रकाशन की पुस्तकें :

1857-क्रान्ति-कथा

राही मासूम रजा

मूल्य: $ 11.95

1857 की क्रान्ति पर आधारित पुस्तक...

  आगे...

अकेला पलाश

मेहरुन्निसा परवेज

मूल्य: $ 22.95

...पलाश लाख सुन्दर हो, सुन्दर फूल हों, पर उसमें सुगन्ध नहीं न ! उसे जूड़े में सजाया नहीं जा सकता, वह किसी भी गुलदस्ते की शोभा नहीं बन पाता, पलाश सिर्फ अपनी डाल पर लगता है और उसी पर मुरझाकर धरती पर गिर जाता है। वह सिर्फ अपने लिए अपनी डाल पर ही सीमित रहता है। कितना कड़वा सत्य है, जिसे उसने आज जाना, अभी..इसी क्षण !!   आगे...

अक्षर अक्षर यज्ञ

धर्मवीर भारती

मूल्य: $ 22.95

पत्रों की दुनिया एक लेखक के निजत्व और उसकी गहन सामाजिकता को उजागर करती है।   आगे...

अगनपाखी

मैत्रेयी पुष्पा

मूल्य: $ 16.95

इदन्नमम, चाक, अल्मा कबूतरी, झूला नट के बाद यह कथा मैत्रेयी पुष्पा के औपन्यासिक यात्रा का एक जबर्दस्त मोड़...

  आगे...

अधूरी कहानी

विष्णु प्रभाकर

मूल्य: $ 10.95

प्रस्तुत है कहानी संग्रह....   आगे...

अंधेरे से परे

सुरेन्द्र वर्मा

मूल्य: $ 1.95

आज की मजबूर भागती-हाँफती जिन्दगियों का बहुआयामी कथानक...   आगे...

अन्ततोगत्वा

प्रमोद त्रिवेदी

मूल्य: $ 14.95

प्रस्तुत है श्रेष्ठ उपन्यास...

  आगे...

अन्तर्यात्रा

रामकृष्ण पाण्डेय आमिल

मूल्य: $ 9.95

मनुष्य की नियति और उसके संघर्ष,जीवन के प्रति अदम्य लालसा और उसके मोहभंग,अन्धेरे में भी संघर्ष की आंच में तपते हुए प्रकाश को टटोलने और उसके सहारे जीवन की यात्रा को देखने परखने का दस्तावेज.....   आगे...

अन्तर्वंशी

उषा प्रियंवदा

मूल्य: $ 17.95

अमेरिकावासी पात्रों और परिवारों की जिंदगी को उनके आपसी संबंधों और संघर्षों को गहरी अंतर्दृष्टि और पर्यवेक्षण सामर्थ्य से उद्घाटित करता उपन्यास   आगे...

अपनी अपनी बीमारी

हरिशंकर परसाई

मूल्य: $ 10.95

इसमें हास्य-व्यंग्य पर आधारित कहानियों का वर्णन है।

  आगे...

 1 2 3 >  Last ›  View All >>   280 पुस्तकें हैं|