लोगो की राय

अतिरिक्त >> चकाचक एस.एम.एस.

चकाचक एस.एम.एस.

बिल्लू बादशाह

1.95

प्रकाशक : फ्यूजन बुक्स प्रकाशित वर्ष : 2006
आईएसबीएन : 81-288-1221-1 पृष्ठ :94
आवरण : पुस्तक क्रमांक : 4703
 

बिल्लू बादशाह के द्वारा लिखित बेहतरीन और रोचक एस.एम.एस.

Chakachak SMS A Hindi Book Billu Badshah - चकाचक एस.एम.एस. - बिल्लू बादशाह

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

चकाचक SMS

‘‘बिल्लू बादशाह’’
इतिहास में उसे ही अच्छा बादशाह कहा गया है- जिसने लुटाया है, बांटा है।
लतीफे, चुटकुले, जोक्स, एस.एम.एस. पर किसी एक का अधिकार नहीं है, शुद्ध मनोरंजन है, ‘खुशियों का खजाना है। इसे बिल्लू बादशाह को भी अपने दोस्तों के बीच खुले दिल से लुटाना है। पढ़कर एस.एम.एस. बिल्लू के दूर करें अवसाद। जब जब आए हंसी, करना बिल्लू को याद।
****

डाली से पत्ते यूं ही गिरा नहीं करते,
बिछड़ के लोग ज्यादा जिया नहीं करते।
कुछ नए एसएमएस हो तो भेजिए,
पुराने हम बार-बार पढ़ा नहीं करते....!

****

पत्नी- ‘‘अगर मैं मर जाऊं तो तुम क्या करोगे ?’’
पति- ‘‘शायद मैं भी मर जाऊंगा।’’
पत्नी- ‘‘क्यों ?’’
पति : ‘‘कभी-कभी ज्यादा खुशी जानलेवा होती है।’’

****

दर्द को न देखिए दर्द से,
दर्द को भी दर्द होता है।
दर्द को भी जरूरत प्यार की,
आखिर प्यार में दर्द ही तो हमदर्द होता है।

****

इंतेहा हो गई.........
इंताजर की, आए ना एसएमएस......
मेरे यार का,
ये मुझे है
यकीं......कन्जूस वो नहीं......
फिर वजह क्या हुई ?
इंतजार की.......??
****

याद तो तुम्हारी आती है,
दिल को बहुत तड़पाती है।
कॉल भी करते हैं पर कमबख्त
ये कस्टमर केयर की लड़की है,
जो बार बार लो बैलेंस बताती है।


अन्य पुस्तकें

To give your reviews on this book, Please Login