समुद्र के भूत - जगदीश चंद्रिकेश Samudra ke Bhoot - Hindi book by - Jagdish Chandrikesh
लोगों की राय

मनोरंजक कथाएँ >> समुद्र के भूत

समुद्र के भूत

जगदीश चंद्रिकेश

प्रकाशक : आर्य प्रकाशन मंडल प्रकाशित वर्ष : 2006
आईएसबीएन : 81-88121-70-3 मुखपृष्ठ :
पृष्ठ :40 पुस्तक क्रमांक : 3413

10 पाठकों को प्रिय

168 पाठक हैं

साहस और शौर्य की किशोरोपयोगी कहानियाँ......

समुद्र के भूत कोई परंपरागत भूत-प्रेत की कहानियाँ नहीं, बल्कि शौर्य,साहस और जीवंतता की प्रेरक कहानियाँ हैं जो किशोरों के तथ्यान्वेषी मन-मस्तिष्क की उत्तेजना को एक नई दिशा देती हैं। तुर्की,चीन और ब्रिटेन के घटनाक्रम की ये कहानियाँ वस्तुतः सार्वदेशिक और सार्वकालिक हैं जो युवा मन को निश्चित ही आंदोलित करेंगी।

अन्य पुस्तकें

To give your reviews on this book, Please Login