ध्वनि और संगीत - ललित किशोर सिंह Dhwani Aur Sangeet - Hindi book by - Lalit Kishore Singh
लोगों की राय

विविध >> ध्वनि और संगीत

ध्वनि और संगीत

ललित किशोर सिंह

प्रकाशक : भारतीय ज्ञानपीठ प्रकाशित वर्ष : 2004
आईएसबीएन : 812631044 मुखपृष्ठ : सजिल्द
पृष्ठ :242 पुस्तक क्रमांक : 10416

Like this Hindi book 0

पुस्तक दो भागों में विभाजित है. प्रथम में ध्वनि-विज्ञान का तथ्यपूर्ण एवं सैद्धान्तिक प्रस्तुतीकरण है. द्वितीय भाग में नए-पुराने--प्राचीन, मध्यकालीन व आधुनिक--सभी भारतीय स्वर-ग्रामों का विज्ञान-

पुस्तक दो भागों में विभाजित है. प्रथम में ध्वनि-विज्ञान का तथ्यपूर्ण एवं सैद्धान्तिक प्रस्तुतीकरण है. द्वितीय भाग में नए-पुराने--प्राचीन, मध्यकालीन व आधुनिक--सभी भारतीय स्वर-ग्रामों का विज्ञान-सम्मत शास्त्रीय विश्लेषण है. भारतीय संगीत की अपनी एक परम्परा है, उसका अपना एक अलग दृष्टिकोण है, उसमें आत्मिक उत्थान के लिए सम्बल है और समाधी की-सी तल्लीनता है. किन्तु उसका समस्त आधार और विस्तार आधुनिक अर्थों में वैज्ञानिक भी है.

To give your reviews on this book, Please Login