Priyamvad/प्रियंवद
लोगों की राय

लेखक:

प्रियंवद

एक अपवित्र पेड़

प्रियंवद

मूल्य: $ 8.95

जीवन की विराटता को समेटे हुए अत्यन्त चर्चित और लोकप्रिय कथाकार प्रियंवद का एक महत्वपूर्ण कथा-संग्रह   आगे...

छुटटी के दिन का कोरस

प्रियंवद

मूल्य: $ 15.95

छुटटी के दिन का कोरस' कथाकार और इतिहासवेत्ता प्रियंवद का तीसरा उपन्यास है…   आगे...

धर्मस्थल

प्रियंवद

मूल्य: $ 12.95

मूलतः इतिहासविद माने जाने वाले प्रियंवद का अति संवेदनशील उपन्यास   आगे...

परछाई नाच

प्रियंवद

मूल्य: $ 10.95

परछाई नाच सत्ताओं की छाया के बीच मनुष्य के अस्तित्व के अर्थ उसके प्रश्न और संघर्ष का जीवन्त आख्यान है...   आगे...

भारत विभाजन की अन्तःकथा

प्रियंवद

मूल्य: $ 36.95

भारतीय उपमहाद्वीप की सीमाएँ गांधार से लेकर कन्याकुमारी तक फैली रही हैं। इतिहासविदों को अभी उपलब्ध जानकारी के अनुसार अशोक के समय और बाद में औरंगजेब के समय में भी भारतीय सीमाएँ अपने सर्वाधिक विस्तारित रूप में थीं। लेकिन सन् 1947 में चंद लोगों की व्यक्तिगत आकांक्षाओं ने इस विस्तार को एक बार पुनः बाधित किया। इस विभाजन की अंतःकथा।   आगे...

 

  View All >>   5 पुस्तकें हैं|