Jagdish Jagesh/जगदीश जगेश
लोगों की राय

लेखक:

जगदीश जगेश
जन्म : २१ जून, १९३६, वाराणसी।

शिक्षा : काशी विद्यापीठ, वाराणसी से शास्त्री, एम.ए.एस., एम.ए. तथा कानपुर विश्वविद्यालय से एल-एल.बी.।

रचना यात्रा : पहली कहानी १९४९ में ‘साहूमित्र' पत्रिका में छपी। तब से कई सौ रचनाएँ तथा पाँच पुस्तकें प्रकाशित। जगदीश जगेश ने इतिहास लेखन को तारीखों एवं घटनाक्रमों का ब्योरा देने के दायरे से बाहर निकालकर, क्रांतिकारियों के बम और पिस्तौल की भाषा के पीछे छिपे उनके मिशन के सिद्धांत, आदर्श और विचारधारा के पक्ष को उजागर करने में अपनी लेखनी चलाई। उन्होंने क्रांतिकारियों के जीवन पर अनेक लेख, कहानियाँ तथा एक इतिहास ग्रंथ लिखा।

पुरस्कार और सम्मान : उनके इतिहास ग्रंथ 'कलम आज उनकी जय बोल' को दिल्ली सरकार ने विशिष्ट पुरस्कार प्रदान किया था। इसी ग्रंथ पर उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार के हिंदी संस्थान के ‘कबीर पुरस्कार' से सम्मानित किया गया तथा देश की अन्य संस्थाओं द्वारा भी उन्हें सम्मानित किया गया। जगेशजी अंतिम समय में अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद के जीवन की अब तक की अज्ञात गतिविधियों पर गहन शोध कर रहे थे। उन्होंने ‘शहीद संस्मृति' नामक संस्था का भी गठन किया था। साठ वर्ष की आयु में २३ फरवरी, १९९७ को उनका निधन हो गया।

वतन पर मरने वाले

जगदीश जगेश

मूल्य: $ 10.95

भगतसिंह, राजगुरु और सुखदेव के जीवन पर आधारित उपन्यास....   आगे...

 

  View All >>   1 पुस्तकें हैं|