Ila Chandra Joshi/इलाचन्द्र जोशी
लोगों की राय

लेखक:

इलाचन्द्र जोशी
जन्म : सन् 1902 में अल्मोड़ा में।

अल्मोड़ा के एक प्रतिष्ठित ब्राह्मण परिवार में जन्मे श्री इलाचन्द्र जोशी हिन्दी में मनोवैज्ञानिक उपन्यास लेखन के प्रणेता थे। आपकी नियमित शिक्षा तो नहीं हो सकी लेकिन आप हिंदी, संस्कृत और बांगला के विद्वान थे। अंग्रेजी और फ्रेंच के अलावा भी कई विदेशी भाषाओं के जानकार थे।

कवि के रूप में साहित्यिक जीवन प्रारम्भ करके आप जल्दी ही गद्य-क्षेत्र में कूद आये और उपन्यासों में मनोवैज्ञानिक विश्लेषण की विशेषता के साथ अपने समय के श्रेष्ठ उपन्यासकार सिद्ध हुए।

आजीवन साहित्य-कर्म में व्यस्त रह कर आपने 81 वर्ष का जीवन जिया और 1983 में दिवंगत हुए।

कृतियाँ :

उपन्यास : मणिमाला, संन्यासी, पर्दे की रानी, प्रेत और छाया, निर्वासित, मुक्तिपथ, सुबह के भूले, जिप्सी, जहाज का पंछी, त्याग का भोग।

कहानी : धूपरेखा, दीवाली और होली, रोमांटिक छाया, आहुति, खँडहर की आत्माएँ, डायरी के नीरस पृष्ठ, कटीले फूल लजीले काँटे।

समालोचना तथा निबन्ध : साहित्य सर्जना, विवेचना, विश्लेषण साहित्य चिंतन, शरत्-व्यक्ति और कलाकार, रवीन्द्रनाथ, देखा-परखा।

विविध : दैनिक जीवन और मनोविज्ञान-ऐतिहासिक कथाएँ, उपनिषदों की कथाएँ, गोर्की के संस्मरण, इक्कीस विदेशी उपन्यासकार, महापुरुषों की प्रेम कथाएँ, सूदखोर की पत्नी तथा दोस्ता-एव्सकी की दो कहानियों का अनुवाद।

ऋतुचक्र

इलाचन्द्र जोशी

मूल्य: $ 27.95

श्री इलाचन्द्र जोशी का एक अत्यन्त रोचक रोमांचक उपन्यास...   आगे...

जहाज का पंछी

इलाचन्द्र जोशी

मूल्य: $ 12.95

आज के सुशिक्षित किन्तु महत्वाकांक्षी तथा बौद्धिक चेतना से आक्रान्त नवयुवक के परिस्थिति-प्रताड़ित जीवन की कहानी...   आगे...

जहाज का पंछी

इलाचन्द्र जोशी

मूल्य: $ 29.95

यह एक ऐसे मध्यवर्गीय नवयुवक के परिस्थिति-प्रताड़ित जीवन की कहानी है जो कलकत्ते के विषमताजनित घेरे में फँसकर इधर-उधर भटकने को विवश हो जाता है...   आगे...

जिप्सी

इलाचन्द्र जोशी

मूल्य: $ 25.95

  आगे...

त्याग का भोग

इलाचन्द्र जोशी

मूल्य: $ 12.95

इसमें एक अनाथ लड़की के जीवन पर प्रकाश डाला गया है...   आगे...

मणिमाला

इलाचन्द्र जोशी

मूल्य: $ 4.95

एक जिप्सी लड़की को उपन्यास का मुख्य पात्र बना कर लिखा गया जोशी जी का एक महत्त्वपूर्ण उपन्यास...   आगे...

संन्यासी

इलाचन्द्र जोशी

मूल्य: $ 25.95

  आगे...

 

  View All >>   7 पुस्तकें हैं|