Dipak Sharma/दीपक शर्मा
लोगों की राय

लेखक:

दीपक शर्मा
जन्म : 30 नवंबर 1946। जन्म-स्थान : लाहौर (पाकिस्तान)। शिक्षा : एम.ए. (अंग्रेजी साहित्य, 1968 चंडीगढ़)। संप्रति : अध्यापन-कार्य (लखनऊ)। सन् ’70 की जून की प्रीत-लड़ी (पंजाबी मासिक) में पहली कहानी छपी। फिर कुछ और कहानियां पंजाबी तथा अंग्रेजी में लिखीं और छपवायीं। सन् ’78 से हिन्दी में लिखना और छपना प्रारम्भ किया और अब तक विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में 125 से ऊपर कहानियां प्रकाशित हो चुकी हैं। कृतियाँ : हिंसाभास (1993), दुर्ग-भेद (1994), परख-काल (1994), बवण्डर (1995), रण-मार्ग (1996), उत्तर-जीवी (1997), आतिशी शीशा (2000) - (छोटी रस्सी, दई की घाली, आतिशी शीशा, पिछली घास, काल-दोष, कड़ुवी रोटी, बेसिर की कीली, दर्जी की सुई, ऊँट के मुँह, निबटी रकम, चिराग-बत्ती, गाछ, जाड़े की लू, आठ अठारह, काठ में पाँव, पाँव-चप्पी, निम्मो जरूर अच्छी होगी, घी-खिचड़ी, चित्ती कौड़ी, बुर्ज का रास्ता।), आपद् धर्म तथा अन्य कहानियाँ (2001)। चाबुक सवार (2003) - (माफ़ी ज़मीन, डिबिया, खुली हवा में, गुलाबी हाथी, घाव का अंगूर, खुपिया बाघ, गुड़-च्यूँटे, टके कोस, नाम चढ़ाई, बंधक, रंगीन कांच, भरण-पोषण, लहरी गति, रेडियो वाली मेज़, रक्षार्थ, पत्थर तले, भूख की ताब, फ्री-हैंड, चाबुक-सवार, दोहरा इक्का।), रथ-क्षोभ - (स्पर्श-मणि, मंत्रणा, ज्वार, नरक की नोक, दो मनफी एक, फरीदा मैं जानयाँ दुःख मुझको..., मुड़ा हुआ कोना, लाल मिर्च, कुंजी, रथ-क्षोभ।)।

आतिशी शीशा

दीपक शर्मा

मूल्य: $ 7.95

नारी आन्दोलन से जुड़ी हुई कहानियों का संग्रह...   आगे...

घोड़ा एक पैर

दीपक शर्मा

मूल्य: $ 9.95

समकालीन जनजीवन और उत्तरआधुनिक समय के संक्रमण को बखूबी व्यक्त करती कहानियाँ...   आगे...

चाबुक सवार

दीपक शर्मा

मूल्य: $ 7.95

श्रेष्ठ कहानियों का संग्रह   आगे...

रथ-क्षोभ

दीपक शर्मा

मूल्य: $ 6.95

हर एक रहस्य फट पड़ता है, क्योंकि वह अपने अन्दर की गरमी से फूलता चला जाती है।....   आगे...

 

  View All >>   4 पुस्तकें हैं|