Bhagwati Lal Vyas/भगवतीलाल व्यास
लोगों की राय

लेखक:

भगवतीलाल व्यास

सुनहरी भोर का सपना

भगवतीलाल व्यास

मूल्य: $ 1

पोकरण पीछे छूट गया था। बस जैसलमेर की तरफ बढ़ रही थी। सुबह का समय था। हवा में ठंडक थी। कई बरसों बाद इस बरस पानी बरसा था। हवा में ठंडक इसी कारण थी। जब पानी नहीं बरसता तो धोरों वाली यह धरती सुबह से ही आग उगलने लगती है।   आगे...

 

  View All >>   1 पुस्तकें हैं|