Bachchan Singh/बच्चन सिंह
लोगों की राय

लेखक:

बच्चन सिंह
जन्म : 2 जुलाई 1919।

जन्म-स्थान : जौनपुर जनपद का एक गाँव—भदवार।

शिक्षा : उदय प्रताप कालेज, काशी हिन्दू विश्वविद्यालय, वाराणसी।

अध्यापन : हिन्दी-विभाग, काशी हिन्दू विश्वविद्यालय, वाराणसी।

प्रोफेसर : अध्यक्ष, हिन्दी-विभाग, हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय, शिमला।

विज़िटिंग प्रोफेसर : जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, दिल्ली व राजस्थान विश्वविद्यालय, जयपुर। राँची विश्वविद्यालय, राँची। अवधेश प्रताप विश्वविद्यालय, रीवाँ।

कृतियाँ :

उपन्यास : लहरें और कगार, सूतो व सूतपुत्रो वा, पांचाली।

कहानी-संग्रह : कई चेहरों के बाद।

अन्य गद्य रचनाएँ : क्रांतिकारी कवि निराला, समकालीन साहित्य : आलोना की चुनौती, हिन्दी नाटक, रीतिकालीन कवियों की प्रेम व्यंजना, आलोचक और आलोचना, भारतीय पाश्चात्य काव्यशास्त्र का तुलनात्मक अध्ययन, बिहारी का नया मूल्यांकन, कथाकार जैनेन्द्र, आधुनिक हिन्दी साहित्य का दूसरा इतिहास, कविता का शुक्ल पक्ष, महाभारत की कथा (बुद्धदेव बसु के ‘महाभारतेर कथा’ का हिन्दी अनुवाद) निराला का काव्य औपनिवेशिक और उत्तर आधुनिक समय, आचार्य शुक्ल का इतिहास पढ़ते हुए, आधुनिक हिन्दी आलोचना के बीज शब्द, आधुनिक हिन्दी साहित्य का इतिहास।

पाँच लम्बी कहानियाँ

बच्चन सिंह

मूल्य: $ 16.95

बच्चन सिंह की समकालीन कहानियों का संग्रह   आगे...

पांचाली

बच्चन सिंह

मूल्य: $ 9.95

पांचाली के जीवन पर आधारित उपन्यास...   आगे...

महाभारत की संरचना

बच्चन सिंह

मूल्य: $ 11.95

बुद्धदेव बसु की पुस्तक ‘महाभारतेर’ का हिन्दी अनुवाद ...   आगे...

मेरी कविताई की आधी सदी

बच्चन सिंह

मूल्य: $ 8.95

इसमें बच्चन जी के काव्य यात्रा का वर्णन हुआ है...   आगे...

रीतिकालीन कवियों की प्रेम व्यंजना

बच्चन सिंह

मूल्य: $ 25.95

प्रस्तुत है रीति कालीन कवियों की प्रमुख प्रेम-पूर्ण कवितायें.....   आगे...

शहीद-ए-आजम

बच्चन सिंह

मूल्य: $ 24.95

स्वार्थों की अंधी दौड़, भौतिक सुख-सुविधाओं के प्रति बढ़ती ललक और व्यक्तिगत एवं सामाजिक जीवन में नैतिक मूल्यों के तीव्रगामी पतन के दौर में भारती क्रान्तिकारियों का त्यागमय जीवन शायद कुछ प्रकाश बिखेर सके...   आगे...

सपाट चेहरे वाला आदमी

बच्चन सिंह

मूल्य: $ 29.95

‘सपाट चेहरे वाला आदमी’ बच्चन सिंह की लम्बी कहानियों का दूसरा संकलन है।....   आगे...

 

  View All >>   7 पुस्तकें हैं|