A Arvindakshan/ए अरविंदाक्षन
लोगों की राय

लेखक:

ए अरविंदाक्षन

जन्म : 10 जून, 1949, पालक्काड (केरल)।

शिक्षा : एम.ए. , पी-एच.डी.।

सम्प्रति : प्रोफेसर, हिंदी विभाग, अध्यक्ष - मानविकी संकाय कोच्चीन विज्ञान व प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, कोच्चीन। 1977 से अध्यापन-कार्य का आरम्भ।

भाषा : मलयालम, हिंदी

विधाएँ : कविता, आलोचना, निबंध

प्रमुख प्रकाशित कृतियाँ

आलोचना : महादेवी वर्मा के रेखाचित्र (1974), अज्ञेय की उपन्यास यात्रा (1986), समकालीन हिंदी कविता (1998), आधारशिला (2001), कविता का थल और काल (2002), कवितयिले स्थलकालंगल (मलयालम, 2002), कथयुटे रागविस्तारम (मलयालम, 2002), कविता सबसे सुन्दर सपना है (2003), राग लीलावती (2004), विकल्प (2005)।

कविता : बाँस का टुकड़ा (1992), घोड़ा (1998), आसपास (2003), सपने सच होते हैं (2003)।

अनुवाद : भारतपर्यटनम् (मलयालम से हिंदी), एवम् इन्द्रजित (बांग्ला से मलयालम), कोमल गांधार (हिंदी से मलयालम), प्रेम: एक एलबम (मलयालम से हिन्दी), कोच्चि के दरख्त (मलयालम से हिंदी), अक्षर (कोंकणी से हिंदी), सर्वेश्वर दयाल सक्सेना की कविता (हिंदी से मलयालम), अमेरिका: एक अद्भुत दुनिया (मलयालम से हिंदी), मलयालम की स्त्री-कविता (मलयालम से हिंदी), वैधानिक पाठ (मलयालम से हिंदी)।

सम्पादन : आधुनिक मलयालम कविता, आकलन, वंपेरेटिव इंडियन लिटरेचर, कथाशिल्पी गिरिराज किशोर, कवितयुटे पुतिय मुखम, बहुरंगी कविताएँ, कविता का यथार्थ, निराला: एक पुनर्मूल्यांकन, प्रेमचंद के आयाम, साइंस कम्यूनिकेशन।

सम्मान : महादेवी वर्मा के रेखाचित्र पर उत्तर प्रदेश शासन का पुरस्कार, बाँस का टुकड़ा पर केन्द्रीय हिंदी निदेशालय का पुरस्कार तथा 1989 में उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान, लखनऊ के ‘सौहार्द सम्मान’ से विभूषित।

बाँस का टुकड़ा

ए अरविंदाक्षन

मूल्य: $ 6.95

इस कथा काव्य में महाभारत की कुरूक्षेत्र-युद्ध-कथा का वर्णन किया गया है...   आगे...

 

  View All >>   1 पुस्तकें हैं|