Regional Folktales of India - A Hindi Book by - Anant Pai - रीजनल फ़ोकटेल्स ऑफ इण्डिया - अनन्त पई
Hindi / English

शब्द का अर्थ खोजें

पुस्तक विषय
नई पुस्तकें
कहानी संग्रह
कविता संग्रह
उपन्यास
नाटक-एकाँकी
लेख-निबंध
हास्य-व्यंग्य
व्यवहारिक मार्गदर्शिका
गजलें और शायरी
संस्मरण
बाल एवं युवा साहित्य
जीवनी/आत्मकथा
यात्रा वृत्तांत
भाषा एवं साहित्य
प्रवासी लेखक
संस्कृति
धर्म एवं दर्शन
नारी विमर्श
कला-संगीत
स्वास्थ्य-चिकित्सा
योग
बोलती पुस्तकें
इतिहास और राजनीति
खाना खजाना
कोश-संग्रह
अर्थशास्त्र
वास्तु एवं ज्योतिष
सिनेमा एवं मनोरंजन
विविध
पर्यावरण एवं विज्ञान
पत्र एवं पत्रकारिता
ई-पुस्तकें
अन्य भाषा

मूल्य रहित पुस्तकें
सुमन
चन्द्रकान्ता
कृपया दायें चलिए
प्रेम पूर्णिमा
हिन्दी व्याकरण

अगस्त ०३, २०१४
पुस्तकें भेजने का खर्च
पुस्तकें भेजने के सामान्य डाक खर्च की जानकारी
आगे
Regional Folktales of India

रीजनल फ़ोकटेल्स ऑफ इण्डिया

<<खरीदें
अनन्त पई<<आपका कार्ट
मूल्य$ 15.95  
प्रकाशकइंडिया बुक हाउस लिमिटेड
आईएसबीएन81-8482-323-1
प्रकाशितअप्रैल ०१, २०१०
पुस्तक क्रं:7758
मुखपृष्ठ:सजिल्द

सारांश:
Regional Folktales of India - by Anant Pai

Vasanti’s father promises that she will marry Mahindra. When he goes back on his word, Lord Krishna himself must be brought as witness.

Jasma’s beauty makes the king so jealous that he kills her husband and tries to capture her tribe.
The spoilt Princess Rupanjali is so set on marrying the rainbow prince that she will go any lengths to find him.

Though taken from five different parts of India – Orissa, Gujarat, Garhwal, Maharashtra, and Bengal – there is a common thread of humour running through these stories, a shared delight in using wit and intelligence to resolve conflicts.
मुख्र्य पृष्ठ  

No reviews for this book..
Review Form
Your Name
Last Name
Email Address
Review
 

   

पुस्तक खोजें

चर्चित पुस्तकें


मेरा दावा है
    सुधा ओम ढींगरा

धूप से रूठी चाँदनी
    सुधा ओम ढींगरा

कौन सी जमीन अपनी
    सुधा ओम ढींगरा

  आगे

समाचार और सूचनाऍ

अगस्त ०३, २०१४
हमारे संग्रह में ई पुस्तकें भी उपलब्ध हैं। कुछ ई-पुस्तकें यहाँ देखें।
आगे...

Font :